देखन में छोटन लगे घाव करे गंभीर सुजीत “सार्थक”

0
88

हम बात कर रहे है एक ऐसे हास्य अभिनेता सुजीत “सार्थक”की जिन्होंने इस कहावत “देखन में छोटन लगे घाव करे गंभीर”को अपने अभिनय से चरितार्थ किया है कम फिल्मे करने के बाउजूद सुजीत ने जितनी भी फिल्में की उन सब फिल्मो में दर्शकों का दिल अपने अभिनय से जीता है चाहे वो लहू के दो रंग , कच्चे धागे , लागी तोहसे लगन , एक रजाई तीन लुगाई हो या मेंहदी लगा के रखना 2 इत्यादी सभी फिल्मों में अपने अभिनय से जबरजस्त उपस्तिथि दर्ज कराई है । अब इसी कड़ी में सुजीत “सार्थक “के हास्य अभिनय से सजी एवं निर्देशक नीरज रणधीर जी के निर्देशन में बनी फ़िल्म पत्थर के सनम है जो कि इसी 28 जून को सम्पूर्ण बिहार झारखंड और मुम्बई, गुजरात में एक साथ रिलीज़ हो रही है । यहाँ बताते चले कि इस फ़िल्म में भी सुजीत सार्थक अपने हास्य अभिनय से दर्शकों का मनोरंजन करते नज़र आएंगे।हमारी शुभ कामनाएं सुजीत के साथ है कि उनकी यह फ़िल्म बहुत बड़ी हिट साबित हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here