हेग में पीएम मोदी भोजपुरी में भाषण की शुरुआत की

0
257

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने तीन देशों की यात्रा के अंतिम चरण में नीदरलैंड पहुंच गए हैं. भारतीय समय के अनुसार मंगलवार रात पीएम मोदी ने नीदरलैंड में रह रहे भारतीयों से द हेग में मुलाकात की. पीएम ने भोजपुरी में भाषण की शुरुआत की. भाषण के दौरान वहां मोदी मोदी के नारे लगे.
भारतीयों को संबोधित कर रहे हैं मोदी

नीदरलैंड की राजधानी हेग में मोदी ने कहा, हमें पूर्वजों को नमन करना चाहिए. मोदी यहां करीब 3000 भारतीयों को संबोधित कर रहे हैं.
पीएम ने कहा कि सरकार की तरफ से एम्बैसी होती है, एम्बैसडर होते हैं लेकिन उन्हें राजदूत कहते हैं. लेकिन दुनिया के अलग-अलग कोने में रहने वाले हिंदुस्तानी भारत के राष्ट्रदूत हैं.
भारतीयों ने विदेश में अपनी संस्कृति को जीवित रखा है

नरेंद्र मोदी ने कहा, भारतीय समुदाय ने विदेश में भारतीय संस्कृति को जीवित रखा. जमीन से जुड़े लोगों की ताकत ही कुछ और होती है.
उन्होंने कहा, छोटे से नीदरलैंड में भी भारतीयों का दम है. क्या कभी आपने सोचा कि आप अगर डेढ़ सौ साल भारत से अलग होते हैं तो क्या आपके अंदर वहीं भारतीयता बरकरार होता जैसे सूर्यनाम के लोगों का है.
पासपोर्ट का रंग बदलता है खून के रिश्ते नहीं
मोदी ने कहा, ‘मैं चाहूंगा कि यहां पर रहने वाले पासपोर्ट का रंग कोई भी क्यों न हो, पासपोर्ट का रंग बदलने से खून के रिश्ते नहीं बदलते हैं.’
उन्होंने कहा, मेरी हर हिंदुस्तानी से आग्रह है कि पासपोर्ट के रंग के हिसाब से रिश्ते नाते न जोड़ें.
पूरे यूरोप में नीदरलैंड वह देश है जहां भारतीयों की आबादी दूसरे नंबर पर है. उन्होंने कहा कि यहां के लोग दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में रहने वाले भारतीयों से संबंध स्थापित कर सकते हैं. संगठन में ही शक्ति है.
मोदी ने कहा, ‘मैं नहीं मेरे देश की सवा सौ करोड़ जनता देश चलाती है. जनभागीदारी से देश कई गुणा तेज गति से प्रगति कर सकता है.’
मुद्रा योजना का असर
हमारे देश की 70 फीसदी महिलाओं को इस स्कीम से फायदा हुआ है. नोटबंदी के बाद जब नए खाता खुलना शुरू हुआ तो सबसे ज्यादा महिलाओं ने ही नया खाता खुलवाया.
मुद्रा स्कीम के तहत 10 लाख रुपए तक का लोन बगैर किसी गारंटी के मिल जाता है.
देश के लिए निवेश
कृषि के क्षेत्र में भारतीय महिलाओं की अहम भूमिका है. उन्होंने कहा, ‘दुनिया भर में गर्भवती महिलाओंं को सिर्फ 12 हफ्ते की छुट्टियां मिलती हैं लेकिन हमने 26 हफ्ते की छुट्टियां दी हैं.’ उन्होंने कहा, लोगों को लग सकता है कि ये मुफ्त का पैसा ले रही हैं. मेरे लिए यह देश पर किया गया निवेश है क्योंकि वे देश के होने वाले भविष्य को संवार रही हैं. खेलकूद में भारत की बेटियां आगे हैं.
मोदी ने कहा, जब मेरी सरकार आई थी तब 18,000 गांवों में बिजली नहीं थी. अब देश के ज्यादातर गांवों में रोशनी पहुंच गई है. स्पेस टेक्नोलॉजी में भी भारत एक के बाद एक रिकॉर्ड बना रहा है.
पीएम ने कहा, ‘जब दुनिया को पता चलता है कि 100 भाषाएं हैं. 1700 बोलियां हैं तो वे आश्चर्यचकित हो जाते हैं. लोग कहते हैं यूरोप में तो देश बदलता है, भाषा बदलता है तो हमें दिक्कत होती है. आप 100 भाषाओं के बीच कैसे जी रहे हो. उस धरती, संस्कृति, परंपराओं के प्रति हमारा लगाव है. इसलिए कोई भी हिंदुस्तानी गर्व से कह सकता है कि मेरा देश विविधताओं का देश है.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here