अमिताभ बच्चन के वैक्स स्टेच्यू का जल्द होगा मेकओवर

0
407
Amitabh Bachchan

मुंबई। लंदन के मैडम तुसाद म्यूजियम में लगे भारतीय सिनेमा के शहंशाह अमिताभ बच्चन के वैक्स फिगर को जल्द ही मेकओवर किया जाएगा। यह जानकारी खुद अमिताभ ने अपने ब्लॉग पर साझा की। अमिताभ बॉलीवुड के पहले ऐसे अभिनेता हैं जिनका वैक्स फिगर (2002) सबसे पहले मैडम तुसाद में म्यूजियम में लगाया गया था। उनके अलावा महात्मा गांधी, ऐश्वर्या राय बच्चन, शाहरुख खान, सलमान खान, कैटरीना कैफ, माधुरी दीक्षित, ऋतिक रोशन और करीना कपूर जैसी शख्सियतों के वैक्स फिगर मैडम तुसाद म्यूजियम में लगे हुए हैं।
जल्द रिलीज होगी बिग की फिल्में
बिग बी ने अपने ब्लॉक पर लिखा कि मेरे वैक्स फिगर में बदलाव करने के लिए एम टी के लोगों ने मेरे साथ कुछ वक्त बिताया था। साथ ही कुछ फोटोग्राफ्स भी लिए थे। उन्होंने लिखा कि इसके लिए वे मेरे पुराने कपड़ों, शूज, जैकेट्स और ग्लासेज का भी इस्तेमाल करेंगे। मुझे इस बात कि इस खुशी है वे समय के हिसाब से मॉर्डन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रहे है। गौरतलब है कि अमिताभ की टेन और पिंक जैसी फिल्में जल्द ही रिलीज होने वाली हैं।
सबसे पहले लगा अमिताभ को वैक्स फिगर
इसे बड़ी उपलब्धि ही कहा जाएगा कि भारतीय सिनेमा जगत में से अमिताभ्भ बच्चन पहले ऐसे कलाकार है जिनका वैक्स फिगर लंदन के प्रसिद्ध मैडम तुसाद म्यूजियम में सबसे पहले लगा है। बिग बी को सबसे पहले चुने जाने के पीछे एक वजह ये भी मानी जा सकती है कि उन्हें बॉलीवुड का पहला एंग्री यंग मैन कहा जाता है। उन्होंने दीवार, अग्निपथ, शोले, डॉन और ब्लैक जैसी सुपरहिट फिल्में दीं। अक्सर उन्हें बॉलीवुड का शहंशाह भी कहा जाता है। पहली बार अमिताभ का वैक्स फिगर लगाने के बाद मैडम तुसाद ने कहा था कि बिग बी की इमेज और पॉपुलैरिटी की वजह से लोगों के बीच उन्हें ज्यादा सम्मान मिलता है। अमिताभ के अलावा बॉलीवुड की आठ हस्तियां ये मौका मिल चुका है।
मोदी का मोम पुतला भी लगा है म्यूजिमय में
दुनियाभर में मैडम तुसाद के कई म्यूजियम हैं। इसकी ब्रांचेस एमस्टर्डम, लास वेगास, न्यूयॉर्क, वॉशिंगटन, बैंकॉक, बीजिंग, हांगकांग, टोक्यो, शंघाई, सिंगापुर और वुहान में हैं। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी दुनिया की उन चुनिंदा हस्तियों में शामिल हो गए हैं जिनके मोम के पुतले मैडम तुसाद म्यूजियम ने तैयार किए हैं। मोदी के तीन पुतले सिंगापुर, हॉन्गकॉन्ग और बैंकॉक में लगाए गए हैं। 28 अप्रैल को एक और पुतला लंदन के म्यूजियम में भी रखा गया। म्यूजियम के मुताबिक, मोदी के पुतले को बनाने में चार महीने का वक्त लगा। इसकी लागत करीब डेढ़ करोड़ रुपए आई।
इसलिए खास है लंदन का म्यूजियम
लंदन के इस फेमस म्यूजियम की खासियत यह है कि यहां पूरी दुनिया के फेमस और ताकतवर व्यक्तियों के मोम के पुतले लगे हुए है। लंदन के जिस मैडम तुसाद म्यूजियम में मोदी का पुतला रखा जाएगा, वहां यूएस प्रेसिडेंट बराक ओबामा, ब्रिटेन के पीएम डेविड कैमरन, जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल और फ्रांस के प्रेसिडेंट फ्रांस्वा ओलांद के स्टैचू पहले से हैं लंदन की बेकर स्ट्रीट पर मौजूद इस म्यूजियम में महात्मा गांधी और विंस्टन चर्चिल जैसी हस्तियों के पुतले भी रखे गए हैं।