फिल्म बनाना कोई रॉकेट साइंस नहीं हैः अक्षय कुमार

0
710

मुंबई. इस साल की शुरुआत में ‘एयरलिफ्ट’ जैसी सीरियस फिल्म करने के बाद अक्षय कुमार अब ‘हाउसफुल 3’ में धमाल मचाने के लिए तैयार हैं। कॉमेडी से भरपूर इस फिल्म में अक्षय सैंडी और सुंडी दो कॉमिक कैरेक्टर्स में दिखेंगे। इस मल्टीस्टारर फिल्म में उनके अपोजिट जैकलीन फर्नांडिस नजर आएंगी।

इस फिल्म और कैरेक्टर से जुड़ी बातचीत अक्षय कुमार से। बॉलीवुड के बेहद बिजी स्टार्स में शामिल हैं अक्षय कुमार। साल में तीन-चार फिल्में करना उनके लिए कोई बड़ी बात नहीं है। खास बात यह भी है कि वे हर जॉनर की फिल्में कर रहे हैं और वो हिट भी हो रही हैं। लास्ट फिल्म ‘एयरलिस्ट’ में उन्होंने सीरियस कैरेक्टर प्ले किया था। अक्षय कुमार अब अपनी अपकमिंग फिल्म ‘हाउसफुल 3’ में कॉमिक रोल में नजर आने वाले हैं। फिल्म, कैरेक्टर और करियर से जुड़े सवाल अक्षय कुमार से।

‘हाउसफुल 3’ की स्टोरी कितनी मजेदार है?
इस फिल्म की कहानी लंदन बेस्ड है, जहां बोमन ईरानी अपनी तीन बेटियों जैकलीन फर्नांडिस, लीजा हेडन और नरगिस फाखरी के साथ रहते हैं और उनकी शादी नहीं कराना चाहते हैं। लेकिन उनकी बेटियां अपने ब्वॉयफ्रेंड्स के साथ सात फेरे लेना चाहती हैं। फिर कैसे स्टोरी में मजेदार ट्विस्ट आते हैं, यही देखने वाली बात है।

फिल्म में आपका कैरेक्टर किस तरह का है?
बहुत ही मजेदार कैरेक्टर है मेरा। मेरे कैरेक्टर का नाम सैंडी है, जो स्प्लिट पर्सनालिटी की बीमारी का शिकार है। यानी मैं दोहरी शख्सियत का मालिक हूं। कभी मैं सैंडी बन जाता हूं तो कभी सुंडी। मैं इस फिल्म में जैकलीन फर्नांडिस का ब्वॉयफ्रेंड बना हूं। जैकलीन बोमन ईरानी की तीन बेटियों में से एक है। मुझे यह कैरेक्टर प्ले करने में बहुत मजा आया। एक्चुअली, हम सभी ने इसकी शूटिंग पर खूब एंजॉय किया।

फिल्म में पहली बार अभिषेक बच्चन दिखाई देंगे? उनके बारे में क्या कहेंगे?
हम सब के फ्रेंड और श्री अमिताभ बच्चन के सुपुत्र अभिषेक की फिल्म में नई एंट्री हुई है। वो वाकई कमाल के परफॉर्मर हैं। इसके अलावा फिल्म में रितेश देशमुख का भी कमाल

देखने को मिलेगा। फिल्म का ट्रेलर काफी पसंद किया जा रहा है, इस पर क्या कहेंगे?
खास बात यह है कि फिल्म की शूटिंग जितने दिनों में पूरी हुई, उससे ज्यादा समय इसका ट्रेलर बनाने में लगा। डायरेक्टर्स समझ नहीं पा रहे थे कि ढाई मिनट के ट्रेलर में वह कैसे पूरी फिल्म की स्टोरी लाइन दिखाएं। इसलिए इसका प्रोमो बनाने में 40 दिन लग गए। लेकिन अब खुशी है कि मूवी का ट्रेलर हद से ज्यादा अप्रिशिएट किया जा रहा है।

इस फिल्म से आप ‘हाउसफुल’ की हैट्रिक लगाने जा रहे हैं। कैसी उम्मीदें हैं आपको?
हमने फिल्म को बड़ी मेहनत और लगन से बनाया है। अगर फिल्म ऑडियंस को रास आ गई तो हमें हाउसफुल का चौथा और पांचवां पार्ट बनाने का हौसला मिलेगा। फिल्म के निर्देशक फरहाद-साजिद ने इस फ्रैंचाइज को बड़ी खूबसूरती से आगे बढ़ाया है। वह बेहतरीन लेखक भी हैं, इसलिए फिल्म में कुछ उम्दा डायलॉग्स भी सुनने को मिलेंगे।

आपकी पिछली कुछ फिल्में गंभीर किस्म की थीं, लेकिन ‘हाउसफुल 3’ में आप कॉमेडी के रंग में दिखेंगे?
जी हां। एक्चुअली, मैं ‘बेबी’, ‘गब्बर इज बैक’, ‘ब्रदर्स’ और ‘एयरलिफ्ट’ जैसी गंभीर फिल्में करने के दौरान बहुत सीरियस हो गया था। अब ‘हाउसफुल 3’ करने के बाद खुद को बड़ा हल्का महसूस कर रहा हूं।। इस फिल्म की शूटिंग करने के दौरान मैं उन गंभीर कैरेक्टरों से बाहर निकला। सेट पर मैंने दिल खोलकर मजे किए और खूब मस्ती की। हर सीन के मैंने दो-दो टेक दिए। पहले टेक में वैसी एक्टिंग की जैसी निर्देशक चाहते थे, जबकि दूसरे टेक में जो दिल में आया, वो किया। कुछ महीने पहले ‘एयरलिफ्ट’ के प्रचार के दौरान मैं बड़ी गंभीर मुद्रा में खड़ा होकर फिल्म प्रमोट कर रहा था और अब हंसी मजाक करते हुए ‘हाउसफुल 3’ का प्रमोशन कर रहा हूं।

बॉलीवुड के कई स्टार्स साल में एक या दो ही फिल्में कर पाते हैं, आप कैसे साल में चार फिल्में निपटा लेते हैं?
देखिए, यह कोई रॉकेट साइंस नहीं है। अगर आप काम करते जाएं तो यह बहुत आसान है। मैं दूसरों के बारे में तो नहीं कह सकता कि वे क्यों चार फिल्में नहीं करते, लेकिन मेरा तरीका ऐसा ही है। मैं नहीं समझता कि किसी फिल्म की शूटिंग में 60 दिन से ज्यादा समय लगना चाहिए। मैंने ‘हाउसफुल 3’ की शूटिंग मात्र 38 दिनों में पूरी कर ली थी। इसकी शूटिंग के दौरान हर कोई वक्त पर आता था और हम कड़ी मेहनत करते थे। मैं रोज आठ घंटे काम करता हूं। मैं उसी हिसाब से अपना कॉन्ट्रेक्ट बनवाता हूं। मैंने कहीं पढ़ा था कि हॉलीवुड मूवी ‘मिशन इम्पॉसिबल’ उन लोगों ने 52 दिनों में बनाई थी। मेरी समझ में नहीं आता कि हम शूटिंग के लिए 300-400 दिनों की बात कैसे करते हैं। मुझे तो लगता है कि फिल्में 30 से लेकर 60 दिनों के भीतर बन जानी चाहिए।