फिल्‍म मेकर्स की नई नस्‍ल को लीड कर रही हैं सारिका एस. संजोत

0
154

हिंदी सिनेमा का जलवा इन दिनों दुनिया भर में है, तो चुनौतियां भी अलग – अलग तरह की हैं। ऐसे में एक युवा फिल्‍म मेकर के लिए इस इंडस्‍ट्री में रास्‍ता बनाना बहुत आसान नहीं है। मगर सारिक एस. संजोत उन युवा मेकर्स में हैं, जो अपनी दृढ़ इच्‍छाशक्ति और लगन से हवा का रूख बदलने का मद्दा रखती हैं। यही वजह है कि वे फिल्‍म मेकर्स की नई नस्‍ल की लीडर के रूप में उभरी हैं। तभी तो उन्‍हें उनकी पहली फिल्‍म ‘जीएसटी – गलती सिर्फ तुम्‍हारी’ के लिए बॉलीवुड के लीजेंड्री आइकन जितेंद्र, प्रेम चोपड़ा, राकेश रौशन और शरमन जोशी के द्वारा बॉलीवुड रत्‍न का सम्‍मान दिया गया। बता दें कि सारिका से पहले दिव्‍या खोंसला कुमार ने भी ये साबित किया था कि युवा मेकर्स किसी से कम नहीं।

दरअसल, थ्रिलर ड्रामा बेस्‍ड फिल्‍म ‘जीएसटी – गलती सिर्फ तुम्‍हारी’ के लिए सारिका एस संजोत को यह सम्‍मान दिया गया, जिसके बाद उन्‍होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि वह शाम बेहद शानदार था, जहां भारतीय सिनेमा इंडस्‍ट्री में मनोरंजन क्षेत्र में अधिक रचनात्मकता और ताजगी के साथ उभर कर आने वाले लोगों को प्रोत्साहित किया गया। मुझे बतौर निर्माता यह सम्‍मान पा कर काफी खुशी हुई। मेरी फिल्‍म ‘जीएसटी – गलती सिर्फ तुम्‍हारी’ को लोगों ने जितना प्‍यार दिया, उसके बाद और क्‍या अपेक्षा की जा सकती है।

उन्होंने कहा, ‘यह मेरे लिए इतना उत्साहजनक क्षण है और इसलिए मैं लोगों के लिए एक संदेश देना चाहती हूं कि मनोरंजन के साथ मूल के साथ अच्छी फिल्में बनाने इनिसिएटिव लेना चाहिए। मैंने कभी अपनी फिल्म के लिए इस तरह के प्रतिक्रिया का सपना नहीं देखा था।‘ आगे कहा, ‘मैंने पूरे दिल से इस विषय पर काम किया और मैंने इस पुरस्कार को श्री साई सिने विजन प्रोडक्शन कंपनी के प्रत्येक टीम के सदस्यों को समर्पित किया। क्योंकि उनमें से सभी ने मेरे सपने की परियोजना को पूरा करने के लिए मेरा दिल से समर्थन किया है। बता दें कि सारिका की फिल्‍म ‘जीएसटी – गलती सिर्फ तुम्‍हारी’ को सेंसर बोर्ड की उदासीन रवैये वजह से बार – बार रिलीज डेट बढ़ना पड़ा। मगर जब 8 दिसंबर को फिल्‍म रिलीज हुई, तब दर्शकों का जबरदस्‍त रेस्‍पांस मिला और फिल्‍म ने म‍हज तीन दिनों में 3.05 करोड़ का कारोबार किया।